10 lines on peacock in hindi. Peacock Essay in Hindi 2019-01-21

10 lines on peacock in hindi Rating: 8,6/10 293 reviews

मोर पर निबंध essay on peacock in hindi

10 lines on peacock in hindi

In Harry Potter and the Deathly Hallows, Snape and Yaxley apparate outside of Malfoy Manner to deliver news to Voldemort. He was reminded of the stars twinkling in the milky way at night. Answer 1: The poet was thrilled to see a host of golden daffodils by the side of the lake under the trees moving their head in a joyful dance. There was a rustle somewhere to their right. Line 8 to 14 speech of Salarino You are stressed because you are worried about your rich ships argosies which are sailing stately like gentlemen and important citizens on sea surface. Q E : Why did Swami change his tactics while giving excuse in front of his father? After watching this video you can easily write : Essay on Peacock In English.

Next

10 lines on peacock in hindi

10 lines on peacock in hindi

मोर-- १ मोर जिसे भारत देश के राष्ट्रीय पक्छी कहते है। २ इसकी सुंदरता का कोई जवाब नहीं। ३ यह जब नाचते हैं तो दिल खोलकर झूम उठते हैं। ४ इनकी पुकार भी बहुत मधुर होती है। ५ जब यह एकाएक अपने पाव को थिरकते गुए देखते हैं तो रुक जाते हैं। ६ भग्वान कृष्ण के मुकुट पर मोर पंख होता है। ७ मोर के पंख को विद्या के स्थान पर रखना शुभ माना जाता है।. This is a tested list of words. The birdmust be well-distributed within the country so it could truly 'national'. In 1963, the peacock was declared the National Bird of India because of its rich religious and legendary involvement inIndian traditions. It must be recognisable to the common man. I would be looking for ports , harbors and channels and every wh….

Next

10 lines on peacock in hindi

10 lines on peacock in hindi

Perhaps he doesn't like the system of continuous teaching period after period. However We need practice to write correctly. The yew hedges muffled the sound of the men's footsteps. But I still don't know how I have it,found it or came by it. They are startled by a peacock prancing about the top … of a hedge. This sadness makes me so absent-minded that I do not know who I am.

Next

हमारा राष्ट्रीय पक्षी: मोर पर निबंध

10 lines on peacock in hindi

A: Swami used to shout during prayer time at school. इस blog post को अधिक से अधिक share कीजिये और यदि आप ऐसे ही और रोमांचिक articles, tutorials, guides, quotes, thoughts, slogans, stories इत्यादि कुछ भी हिन्दी में पढना चाहते हैं तो हमें subscribe ज़रूर कीजिये. Line 15 to 22 speech of Salanio Sir believe me If I had such a business operation the better part of my affection would be sailing at the sea. At nine-thirty, when he ought to have been shouting. Many of us are struggling for Hindi learning. हमारा राष्ट्रीय पक्षी मोर है। मोर दिखने में बहुत सुन्दर होता है। उसके शरीर का हर एक अंग उसकी सुंदरता पर चार चाँद लगाता है। उसका शरीर नीले रंग का होता है। और पंखों में ना जाने कितने रंग होते हैं। जैसे हरा नीला गुलाबी बैगनी। उसके पंख बड़े -बड़े होते हैं। और जब मोर अपना पंख खोलता है तो वह और भी सुन्दर लगता है। उसकी आँखे लम्बी और खूबसूरत होती हैं। यह कार्तिक भगवान का वाहन भी है। यह कृष्ण भगवान का एक रूप भी है। जब मोर अपने पंख खोलता है तो वह एक अदभुत नजारा होता है। हमारे देश में मोर रांची बिहार मथुरा वाराणसी और राजस्थान के इलाकों में ज्यादा संख्या में पाये जाते हैं। इनका शरीर बड़ा और भारी होता है। जिसके कारण यह ज्यादा ऊंचाई तक उड़ नहीं पाते हैं। यह दान बीज आदि खातें हैं। कहा जाता है की यह सांप भी खाता है। मगर इनपे सांप के विष का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। यह बहुत शान से राजा की तरह चलता है। इनकी खुबिंया तो बहुत हैं जिनमे से कुछ नीचे लिखा हुआ है। यह बारिश होने का अंदाजा लगा लेता है। उसके तन का एक बहुत महत्वपूर्ण अंग जो की पंख है। हिन्दू संस्कृति में माना जाता है की इसके पंख घर में रखने से सुख शम्पत्ति का लाभ होता है। लोग इसके पंख को किताब में निशान के लिए प्रयोग करते हैं। यात्रा का अपना एक सुखद अनुभव होता है। हर यात्रा अपने में कई यादें समेटे होती है पर कुछ बहोत यादगार होती हैं । गर्मी की छुट्टियों में अधिकतर लोग घूमने जाते हैं और इस मौसम में पर्वतों की यात्रा अत्यधिक सुखद होती है। हमारी पहली पर्वतीय यात्रा पिछले वर्ष गर्मी की छुट्टियों में हुई जब पिताजी के पुराने मित्र ने नैनीताल में अपने आवास पे एक समारोह रखा और पिताजी को आमंत्रित करने के साथ साथ ज़रूर आने का आग्रह भी किया। पिताजी ने इस आग्रह का सम्मान करते हुए समारोह में जाने के लिए और साथ साथ नैनीताल घूमने के लिए पांच दिन की योजना बनायी। हमने 20 मई को नैनीताल के लिए रेल पकड़ी और अगले दिन सुबह 10 बजे वहां पहुँच गए। स्टेशन पे पिताजी के मित्र हमें लेने आये हुए थे। हम उनके साथ उनके घर गए। उन्होंने पिताजी की योजना की सराहना करते हुए उन्हें आने के लिए धन्यवाद कहा और हमें नैनीताल घुमाने की जिम्मेदारी अपने ड्राइवर को सौंप दी। क्योंकि समारोह तीन दिन बाद था तो हम नैनीताल घूमने निकल गए। नैनीताल के रास्ते बहुत टेड़े मेढ़े थे और रास्ते के दोनों ओर घाटियों का मनमोहक दृश्य था। कहीं ये घाटियां अत्यंत सुन्दर थीं औ… Question 1: Describe in your own words the poet's feelings when he sees the host of golden? C : No Swamy is not honest in his word.

Next

Peacock Essay in Hindi

10 lines on peacock in hindi

मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है। रूप और गुण दोनों में मोर अतुलनीय है। मोर बहुत सुन्दर होता है। इसके पंखों में इन्द्रधनुषी रंग बिखरे हुए हैं। बरसात के मौसम में बादलों को देखकर पक्षी राज मोर झूम उठता है। अपने पंखों को फैलाकर जब यह नाचता है तो मोरनी के साथ साथ सभी इसके नृत्य के दीवाने हो जाते हैं। मोर की ऊंचाई लगभग डेढ़ दो फुट होती है मगर इसका शरीर कुछ बड़ा होता है। वास्तव में अपने लम्बे लम्बे पंखों के कारण यह काफी लम्बा लगता है। नाचते वक्त यह अपने पंख गोल घेरे में ऊपर उठा कर फैला लेता है। मोर के सिर पर एक चमकीली रंग बिरंगी कलगी होती है। इसकी चोंच थोड़ी लम्बी और नुकीली होती है। मोर के पैर उसकी तरह सुन्दर नहीं होते। किस्से कहानियों में कहा जाता है हि मोर अपने पैरों को देखकर रोता है। मोरनी मोर की तरह सुन्दर नहीं होती, क्योंकि उसके पंख मोर जैसे सुन्दर नहीं होते। मोर हरे भरे जंगलों और खेतों के पास ही रहते हैं। मोर का प्रिय भोजन है कीट पतंग और अनाज के दाने। मोर सांप को भी मार कर खा जाता है। हमारे देश में मोर को पवित्र माना जाता है। भगवान कृष्ण अपने मुकुट में मोरपंख लगाते थे। मोरपंख के पंखे भी बनाये जाते हैं जो सजावट के काम आते हैं। मंदिरों में भी मोरपंख रखे जाते हैं। मोर कार्तिकेय भगवान का वाहन है एवं मां सरस्वती का प्रिय पक्षी है। पतली टांगें और भारी शरीर के कारण मोर अधिक उड़ नहीं सकते। जरूरत पड़ने पर यह तेज भाग सकते हैं। आयुर्वेद में मोरपंखों का प्रयोग दवा के रूप में किया जाता है। मोर के नृत्य की नकल करके मोरनृत्य नामक नृत्य किया जाता है। जिसमें नर्तक मोरपंख लगाकर उसकी तरह नाचते हैं। राष्ट्रीय पक्षी एवं पक्षी राज होने के कारण मोर की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है।. We already have created Youtube videos for learning hindi. इसके इलावा आप अपना कोई भी विचार हमसे comment के ज़रिये साँझा करना मत भूलिए. I should be holding up the grass blade to see in which direction the wind is blowing. Swamy changed his tactics as per the situation. Find paragraph, long and Long Essay on Peacock In English Language.

Next

मोर पर निबंध essay on peacock in hindi

10 lines on peacock in hindi

I think many students do mistakes while writing these Hindi words. I suggest you to practice these words and post your mistakes if possible. You can follow me on :- Facebook - Twitter - Google Plus - YouTube Channel - Facebook Group - If This Video Is Helpful For You. D : Swami used to shout out in the School Prayer Hall during prayer time. Or as it is procession of the sea to surpass the small commercial boats by these argosies.

Next

10 lines on peacock in hindi

10 lines on peacock in hindi

. Answer 2: the poet was alone full stop he was moving about aimlessly over the high valleys and hills watching the beautiful scenes of nature full stop suddenly he saw a great number of golden coloured flowers by the side of the lake under the trees moving their heads in joyful dance. The Peacock Essay for Class 1st, 2nd, 3rd, 4th, 5th, 6th, 7th, 8th, 9th and 10th. Please Like, Share and Subscribe This Channel. B : According to father playing too much on weekends is the cause of Swami's headache.

Next

I want 20

10 lines on peacock in hindi

The criteria for this choice were many. They seemed to be dancing like a human being expressing their energy and joy. मोर 'मोर' भारत का राष्ट्रीय पक्षी है। यह एक बड़ा पक्षी है एवं इसके आकर्षक रंगीन पंख काफी लम्बे होते हैं। मोर के सर पर मुकुट जैसी खूबसूरत कलंगी होती है। इसकी लम्बी गर्दन पर सुन्दर नीला मखमली रंग होता है। यह भारत के सभी क्षेत्रों में पाया जाता है। मोर नुकसानदायक कीट-पतंगों को खाता है और इसलिए यह किसानों का अच्छा मित्र होता है। मोर शब्द पुल्लिंग है तथा स्त्रीलिंग को मोरनी कहते हैं। मोर का नृत्य बहुत प्रसिद्द है। मयूर नृत्य समूह में किया जाता है। नृत्य के समय मोर अपने पंख फैला कर बडा सुन्दर मगर धीमी गति का नृत्य करता है। मोर का शिकार भारत में पूर्णतया प्रतिबंधित है। इसे भारतीय वन्य-जीवन संरक्षण अधिनियम, 1972 के तहत पूर्ण संरक्षण दिया गया है।. Waves in the l… Learning Hindi is easy if we are going in right way. There are Videos at the end for learning Hindi उचित पछताएगा न्याय गिर बकरी पेचिश पीलिया त्वचा योग्य मानव इकाई व्यवस्थित वर्णमाला उच्चारण व्यवस्थापना उच्चारित इकाईयां तुम्हारे विवाह धृष्टता दूँगी पक्षी विशेष समाज ब्राह्मण पहरा कार्य प्राप्त खरीद शीतल जादू स्वच्छ वायु बीमारी पढ़ने अकाल समस्याए प्रयोग अविष्कार देवदार रसायनों आत्मकथा परिशान बचाया चंगुल कूदना भावना सहभागिता पढ़ाई निगरानी चिंता मौखिक संस्कृत इसलिए देवनागरी लिपि उचित विमाला ओतिकड़म चमत्कार उपाय सरोवर … By:R. Q C : Is Swami honest in his words?. Q A : What would Swami usually do during prayer time at school? Q D : What was usual activity of Swami mentioned in the first para.

Next

हमारा राष्ट्रीय पक्षी: मोर पर निबंध

10 lines on peacock in hindi

This essay is very helpful for Children and Students. Q B : What,According to father,is the cause of Swami's headache? This was the usual activity of Swami in the school. मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है। इनको मयूर भी कहा जाता हैं। मोर दिखने में बहुत ही आकर्षक होते हैं। ये भारत में लगभग सभी जगह पाए जाते हैं। मोर चमकीले हरे-नीले रंग के होते हैं। इनकी गर्दन नीले रंग की तथा बहुत ही लम्बी होती है। इसके पंख लंबे हैं व रंगीन होते हैं जिन पर हरे, नीले, पीले और सुनहरे रंगों के चांद जैसे स्पॉट होते हैं। इनके पैर बहुत लम्बे होते हैं। इनके सर पर एक कलगी होती है जिसके कारण इन्हें पक्षियों का राजा भी कहा जाता है। इनकी उम्र लगभग 10 से 25 वर्ष तक की होती है। इनके पंख बहुत ही बड़े होते हैं जिससे इनकी लम्बाई लगभग 1 मीटर से भी ज्यादा हो जाती हैं। मोर बादलों को बहुत पसंद करता है। यह बरसात के मौसम में नृत्य करता है। जब मोर नृत्य के लिए अपने पर फैलाता है, तो यह एक रंगीन पंखे की तरह दिखाई देती है। वहीँ दूसरी ओर मोरनी इतनी आकर्षक नहीं होती। यह आकार में मोर से छोटी होती है। मोरनी का रंग भूरा होता है। इसके पैर बदसूरत होते हैं। मोर अपने भोजन के लिए खाद्यान्नों और कीड़ों पर निर्भर रहता है। मयूर खेतों और बगीचों में पाए जाते हैं वे अनाज खाते हैं। वे किसानों के दोस्त और कीड़े के दुश्मन हैं। मोर सांप का भी शिकार कर लेते हैं। मोर भारत के विभिन्न जगहों पर पाए जाते हैं जैसे उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान आदि। परन्तु आज मोर लुप्त होने की कगार पे हैं। एक ओर जहां इनकी सुंदरता के लिए इनको सराहा गया वहीँ दूसरी ओर इनका शिकार भी किया गया। मोर के संरक्षण के लिए सरकार ने विभिन्न नेशनल पार्क बनाये हैं परन्तु इनके संरक्षण के लिए अभी बहुत-कुछ किया जाना बाकी है।. The small ships move up and down as if they were showing respect ,As if they speed fast by them with their canvas sailing. This is the list of Hindi words in which a student of class 5 have created mistakes are.


Next